बृज भूमि से उठी हुंकार, नौजवान, किसान, दुकानदार, हिंदु-मुसलमान-सरदार, बदलेंगे अब खट्टर सरकार-सुरजेवाला

0
821

 

सुरजेवाला ने दी मेवात में जोरदार दस्तक, हथीन की परिवर्तन रैली में उमडे हजारों लोग

सुरजेवाला ने कहा कि अच्छे दिन आने वाले हैं, मोदी-खट्टर जाने वाले हैं

भाजपा ने खडी की विभिन्न धर्मों और वर्गों के बीच जात-पात और भेदभाव की दीवार

पलवल/हथीन, 10 मार्च। सबका साथ-सबका विकास करने की बात करने वाली भाजपा सरकार का नारा अब प्रांत का विनाश खुद का विकास बन गया है, इसलिए इस सरकार को बदलकर कांग्रेस सरकार लाने की जरूरत है।
उक्त उद्गार कांग्रेस के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी एवं वरिष्ठ कांग्रेसी नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने आज हथीन की विशाल अनाज मंडी में आयोजित परिवर्तन रैली को संबोधित करते हुए व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि बृज भूमि से उठी हुंकार, नौजवान, किसान, दुकानदार, हिंदु-मुसलमान-सरदार, बदलेंगे अब खट्टर सरकार।
महिला कांग्रेस की जिलाध्यक्ष सविता चौधरी द्वारा आयोजित इस रैली की अध्यक्षता महिला कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष सुमित्रा चौहान ने की जबकि विशाल रैली में इलाके के नेता और पूर्व मंत्री एसी चौधरी, किसान खेत मजदूर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष भूपेन्द्र सिंह फौगाट, हरियाणा कृषक समाज के अध्यक्ष ईश्वर नैन, महिला कांग्रेस की वरिष्ठ प्रदेश उपाध्यक्ष रंजीता मेहता, पूर्व मंत्री करतार भडाना के पुत्र मनमोहन भडाना, ओबीसी मोर्चा के प्रदेश चेयरमैन राकेश भडाना, पूर्व विधायक मा. अजमत खान, पूर्व मुख्यमंत्री राव वीरेन्द्र सिंह के पौत्र राव अर्जुन सिंह, वीणा देशवाल, सीमा जैन के अलावा हजारों लोगों ने भाग लिया।
भारी भीड से उत्साहित सुरजेवाला ने भाजपा पर तीखे हमले बोले और उस पर समाज के विभिन्न धर्मों और वर्गों के बीच जात-पात और भेदभाव की दीवार खडा करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि इतिहास में पहली बार मेवात के लोगों के बीच भाजपा ने ही अपने राजनैतिक स्वार्थ के लिए आपसी अविश्वास और धार्मिक उन्माद फैलाया जिसके लिए प्रदेश की जनता उन्हें माफ नहीं करेगी।
प्रदेश पर बढ़ते कर्ज के चक्र का हवाला देते हुए श्री सुरजेवाला ने कहा कि भाजपा सरकार ने समृद्ध हरियाणा को एक तरह से दिवालियापन के कगार पर ला खड़ा कर दिया है। खट्टर सरकार ने बजट में स्वयं ही स्वीकार किया है कि 2017-18 में प्रदेश का ऋण बढक़र 1,41,792 करोड़ हो गया है, जबकि कांग्रेस कार्यकाल के अंत यानि 2013-14 में प्रदेश का कर्ज 60 हजार करोड था, जोकि भाजपा सरकार बनने के बाद बढक़र 81 हजार करोड़ रुपये से अधिक हो गया है, जो काफी चिंताजनक है। ऐसी प्रदेश सरकार जो प्रदेश की सरकारी सम्पत्ति को बेचकर पैसा कमाने की बात करती हो और अगले एक साल में बीस हजार करोड रूपये अतिरिक्त कर्ज लेने की बात करती हो ऐसी सरकार को एक मिनट भी सत्ता में रहने का कोई हक नहीं है।

सुरजेवाला ने भाजपा सरकार को जनता की गाढी कमाई से केवल चिंतन, आयोजन, भोजन और मंथन क रने का आरोप लगाया जो जनता के लिए कुछ नहीं कर रही। उन्होंने कहा कि केन्द्र व खट्टर सरकार कोरी झूठ और नीरी लूट की सरकार है। अब समय आ गया है मोदी व खट्टर सरकार से सवाल करने का कि चार साल बीत जाने के बाद भी मोदी व खट्टर सरकार ने देश व प्रदेश के लिए क्या किया।
श्री सुरजेवाला ने कहा कि जब केन्द्र में भाजपा की सरकार नहीं बनी थी तो नरेन्द्र मोदी ने कुरूक्षेत्र में एक जलसे के दौरान किसानों को वायदा किया था कि भाजपा की सरकार आने पर उनको फसल लागत का 50 फीसदी मुनाफा दिया जाएगा। जब सरकार बनी तो मोदी व खट्टर सरकार ने इस वायदे को भूलाकर किसानों की पीठ पर खंजर घोपने का काम किया। उन्होंने कहा कि यहां तक ही नहीं केन्द्र सरकार ने 22 फरवरी 2015 को सुप्रीम कोर्ट में शपथ पत्र देकर कहा था कि वह किसानों को 50 फीसदी मुनाफा नहीं दे सकते। इससे बाजार भाव बिगड़ जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here