लोकसभा चुनाव में नहीं दिखेंगे बीजेपी के ये दिग्‍गज नेता,284 प्रत्‍याशियों के नाम पर मुहर लग चुकी है.

0
885

बीजेपी के कुछ दिग्‍गज नेता जो पार्टी का चेहरा हुआ करते थे, इस चुनाव में नजर नहीं आएंगे

लोकसभा चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी छठी लिस्‍ट जारी कर चुकी है. इसमें 284 प्रत्‍याशियों के नाम पर मुहर लग चुकी है. लगभग सभी राज्‍यों में प्रत्‍याशी उतारे जा चुके हैं

केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली भी इस बार लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे. 2014 के चुनाव में जेटली हार गए थे और पार्टी ने उन्‍हें राज्‍यसभा सांसद बनाया था. इस बार वे लोकसभा चुनाव में नहीं उतर रहे हैंImage result for अरुण जेटली

बीजेपी की पहली सूची में पार्टी के वरिष्‍ठ नेता लालकृष्‍ण आडवाणी को जगह नहीं दी गई. गांधीनगर सीट पर उनकी जगह पार्टी के अध्‍यक्ष अमित शाह चुनाव लड़ेंगेImage result for लालकृष्‍ण आडवाणी

शाहनवाज हुसैन ने पिछला लोकसभा चुनाव भागलपुर सीट से लड़ा था. हालांकि इस बार यह सीट जदयू के खाते में चली गई है. ऐसे में वे इस बार चुनावी मैदान में नहीं उतरेंगे.Image result for शाहनवाज हुसैन

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और देवरिया से सांसद कलराज मिश्रा इस बार लोकसभा का चुनाव नहीं लड़ेंगे. उन्होंने खुद इसकी घोषणा की हैपार्टी इस बार 75 साल से अधिक उम्र होने के कारण कलराज मिश्रा को चुनाव लड़ाने की जगह अन्य तरह की जिम्मेदारियां देने के मूड में रही. इसे भांपते हुए कलराज मिश्रा ने टिकट की सूची जारी होने से पहले ही चुनाव न लड़ने का एलान कर दिया है. 

Image result for kalraj mishra

केंद्रीय मंत्री और बीजेपी की वरिष्ठ नेता उमा भारती को पार्टी का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष उमा भारती ने पार्टी अध्यक्ष अमित शाह को पत्र लिखकर इस बार चुनाव न लड़ने की इच्छा जताई थी.Image result for उमा भारती

शांता कुमार ने शुक्रवार को चुनाव न लड़ने का ऐलान किया है. वह इस समय कांगड़ा से सांसद हैं बीजेपी के वरिष्‍ठ नेता शांता कुमार ने शुक्रवार को चुनाव न लड़ने का ऐलान किया है. वह इस समय कांगड़ा से सांसद हैं.

मुरली मनोहर जोशी भी चुनाव नहीं लड़ेंगे. कानपुर की सीट से उन्‍होंने पिछला लोकसभा चुनाव जीता था. बताया जा रहा है इस बार उन्‍हें टिकट नहीं दिया जाएगा.Image result for मुरली मनोहर जोशी kanpur

पूर्व मेजर जनरल बीसी खंडूड़ी अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में दो बार विदेश राज्य मंत्री और उत्‍तराखंड के मुख्‍यमंत्री भी रह चुके हैं. हालांकि इस बार खराब स्‍वास्‍थ्‍य का हवाला देकर उन्‍होंने चुनाव न लड़ने की इच्‍छा जताई थी पूर्व मेजर जनरल बीसी खंडूड़ी अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में दो बार विदेश राज्य मंत्री और उत्‍तराखंड के मुख्‍यमंत्री भी रह चुके हैं. हालांकि इस बार खराब स्‍वास्‍थ्‍य का हवाला देकर उन्‍होंने चुनाव न लड़ने की इच्‍छा जताई थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here